Category Archives: Hussan-e-Ishaq Shayari

लोग तुझे देख कहते माशा-अल्लाह.!!


दांतों में ऊँगली दबा,
ना कर हाय अल्लहा हाय अल्लाह.!

हया भी शरमा जाती,
लोग तुझे देख कहते माशा-अल्लाह.!!

2.jpg

ना इतरा.!!,


ना इतरा अपने हुस्न पे क़ातिल,
तुझे बहुत दिया खुदा ने माना.!

उसी मालिक ने मुझे बनाया है,
कुछ दिया होगा क्यों न जाना.!!

is in your hand.!!

साथी खूबसूरत हो दिल क्यों ना बेईमान हो जाए.!!


बच के रहना सीखेंगे,
हसीनों की कलाकारी से अब.!
कहीं ऐसा न हो जाए,
उन्हें ही हम से प्यार हो जाए.!!

खता कर सजा दें.
इश्क़ में यक़ीन कैसे रह जाए.!
साथी खूबसूरत हो,
दिल क्यों ना बेईमान हो जाए.!!

मौसम की क्या खता,
गर ज़िन्दगी बईमान हो जाए.!
दिखा सपनें रसीले,
सागर“साथी जो बेवफा जाए.!!

mehndi

छोटा-सा तिल खूब है इतराता.!!


तेरे लब पर ये जो छोटा-सा तिल है,
दिल का चैन चुराता.!
हंसती जो खिल-खिल कर लबों पर,,
बड़ा खूब है इतराता.!!

1.jpg

क़ाबिलियत.!!


न इतरा यूँ हुस्न पर,
दिया खुदा ने माना बेपनाह.!

I'm Falling in Love.....'Sagar'
करीब आ तो सही,
क़ाबिलियत हम में बेपनाह.!!

कैसी रीत”सागर”बनाने वाले की.!!


हुस्न इतना बेपर्दा क्यों है,
क्यों देता फिर इश्क़ को इलज़ाम.!
गर आँख बंद चलोगे तो,
भुगतना पड़ सकता कोई अंजाम.!!

4.jpg

हमीं पे जुल्म हमीं पे इलज़ाम,
ये कैसी अदा इन हुस्न वालों की.!
रिझाते भी हैं और तड़पाते भी,
कैसी रीत”सागर“बनाने वाले की.!!

Blame On Your Head…


अपने हुस्न की बानगी से मुझे यूँ ना तडपा,
ना जी पाऊँ और गर मरना चाहूं मर भी ना पाऊँ.!
खुदा ने दिया है गर सम्भाल कर रख इसे,
मौत आए गर इल्ज़ाम तेरे सर लगा ही ना पाऊँ.!!

6669deb4360f0f777f3b791_zpshhky3pai

Apne Husn Ki Bangi Se Mujhe Yun Na Tadpa,

Na Ji Paaoon Aur Gar Mrna Chahun Mar Bhi Na Paaoon.!

Khuda Ne Diya Hai Gar Sambhal Kar Rakh Ise,

Maut  Aaye   Gar   Ilzaam  Tere  Sar  Laga  Hi  Na  Paaoon.!!

आपकी झुलफें…


आपकी झुलफें हैं जैसे  कि सावन की घनघोर काली घटायें.!
मदहोश करती तन-बदन और ज़ज़्बातों को आग सुलगायें.!!

Aapki Jhukein Hain Ki Sawan Ki Ghaghor Kaali Ghatayein.!

Madhosh  Karti  Tan – Badan  Aur  Zazbaton  Ko  Sugayein.!!

Oh!!God,Only U Know…


ए खुदा तुझे  इस हसीन  को  बनाने  में कितना वक़्त लगा होगा.!
ये तो मालूम नहीं पर ये तय है बाद तेरा दिल भी ललचाया होगा.!!

91

Ey Khuda Tujhe Is Haseen Ko Banaane Mein Kitna Waqt Laga Hoga.!

Ye To Malum Nahin Par Ye Tay Hai Baad Tera Dil Bhi Lalchaya Hoga.!! 

Her Beauty…


उनके रुख़ से नक़ाब धीरे-धीरे जो सरकने लगा,
मानों महताब बादलों से बाहर निकलने लगा.!

लोग दाँतों तले दबा उंगलियाँ करहा उठे ‘सागर‘,
कलेजा सीने  से फड़फड़ा बाहर निकलने लगा.!!

rukh pe.jpg

Unke Rukh Se Naqab Dheere-Dheere Jo Sarkane Laga,

Manon Mehtab Badalon Se Bahar Niklne Laga.!

Log Danton Tale Daba Ungaliyaan Karha Uthe ‘Sagar‘,

Kaleja Seene Se Fadafada Bahar Niklne Laga.!!

खुशकिस्मत झुलफें…


तेरे माथे जो बालों की लट है,
कम्बख़त खुशकिस्मत हर वक़्त तेरे गालों को चूमती रहती.!

तड़पाती  है तरसाती है बहुत,
बेहया बड़ी बेशर्म है सारे आम तेरे गालों को चूमती रहती है.!!

oltre-mai.png

Tere Mathe Jo Balon Ki Lat Hai,

Kambakhat Khushkismat  Har  Waqt  Tere Galon Ko Chumati Rahti.!

Tadpat Hai Tarsaati  Hai  Bahut,

Behya Badi Besham Hai Sare Aam Tere Galon Ko Chumati Rahti Hai.!!

 

Your Intoxicating Eyes …


इन मदभरी छलकती आँखों से इतना भी ना पिला,
होश  खो  बैठें  और  रुवसा हो जायें.!

ज़माने  ने दिया  है  कब दिलवालों को अच्छा सिला,
कहीं आशिकी में मशहूर ना हो जायें.!!

na pila.jpg

In Madbhari Chalakti Aankhon Se Itna Bhi Na Pila,

Hosh Kho  Baithein  Aur Ruwsaa Ho Jayein.!

Zamane Ne Diya Hai Kab Dilwaalon Ko Achcha Sila,

Kahin Aashiki Mein Mashahur Na Ho Jayein.!! 

Your Slim Waist


तेरी पतली कमर का ये जादू,
सर  चढ़   कर   है  बोलता.!

वरना  हुस्न  वाले  तो  कई  हैं,
होता नहीं असर किसी का.!!

15zm4ht.gif

Teri Patlee Kamar Ka Ye Jaadu,

Sar Chad Kar Hai Bolta.!

Warna Husn Wale To Kai Hain,

Hota Nahin Asar Kisi Ka.!!

All Copyrights Are Reserved
@Advo.R.R.’Sagar

You are Unique…


हुस्न  के  कारवाँ  में  तू बेजोड़ है,
और तुझसा नहीं कोई.!

खुदा भी कशमकश में तुझे भेज,
वहाँ तुझसा नहीं कोई.!!

91.jpeg

Husn Ke Karwan Mein Tu Bejod Hai,

Aur   Tujhsa   Nahin  Koyi.!

Khuda  Kashamksh Mein Tujhe Bhej,

Wahan Tujhsa Nahin Koyi.!!

 

One Day Your Beauty Kill Me…


तेरा यूँ सजना-संवरना मुझे एक दिन मार डालेगा.!
मशहूर  हो  जाएगी इतना गैर अमानत हो जाएगी.!!

71.jpg

Tera Yun Sajna-Sanwarna Mujhe Ek Din Maar Dalega.!

Mashahoor Ho Jaayegi  Itna  Gair Amaanat Ho Jayegi.!! All Copy Rights Are Reserved@Advo.R.R.’Sagar’

Nine Days Wonder


     सुंदरता चार दिन की चाँदनी’सागर’.!
     खूबसूरत  दिल सदियों  की दास्तान.!!

sundarta.jpg

     Sundarta Char Din Ki Chandni’Sagar’.!
     Khoobsurat  Dil  Sadiyon  Ki  Dastaan.!!

हुस्न की अदा.!!


हुस्न की बेबाकी तो देखिए सरे  राहा इश्क़ को बनाने निकला.!
अपनी शौख हसीन  अदाओं  से सारी दुनियाँ रिझाने निकला.!!

sare raha

Husn Ki Bebaki To Dekhiye Sre Raha Ishq Ko Banane Nikala.!

Apni Shoukh  Haseen Adaon Se Sari Duniyan Rijhaane Nikala.!!

हुस्न के लुटेरे…


खुदा ने दिया बेशुमार हुस्न,
जवानी की अदायें संभाल के रख.!
लुटेरे बहुत हैं हुस्न के यहाँ,
कच्ची कली है यूँ नुमाइश ना कर.!!

zra.jpg

Khuda Ne Diya Beshumar Hsaun,

Jawani Ki Adayein Sambhal Ke Rakh.!

Lutere Bahut Hain Husn Ke Yahan,

Kachchi Kali Hai Numaaish Naa Kar.!!

हुस्न की आदत.!!


हुस्न की आदत है इतराना बतियाना और फिर,
बाद में  मान जाना.!

इश्क़ जानता है तभी तो रसीली बातों में उलझा,
इक़रारार करा लेता.!!

hsun ki adat.jpg

Husn Ki Aadat Hai Itraana Batiyaana Aur Phir,

Baad Mein Man Jana.!

Ishq Janta Hai Tabhi To Rasili Baton Mein Uljha,

Iqraraar   Kara    Leta.!!

Oh!!God…


arabka-oczy-1874271.jpg

हुस्न वालों को  खुदा  सारी खुदाई क्यूँ बाँट जाता है.!
इश्क़ को मायूस रख पीछे भागने को छोड़ जाता है.!!

022.jpg

Husn Walon Ko Khuda Sari Khudai Kyun Baant Jaata Hai.!

Ishq Ko Rakh  Mayoos Pheeche Bhagne Ko Chod Jaata Hai.!!

Sharati Aankhein.!!


अपनी शरबती  दो  आँखों से दो घूँट पी लेने  दो.!
एक वजह दो जीने की ज़िंदगी बसर कर लेने दो.!!

aankhe.jpg

Apni Sharbti Do Aankhon Se Do Ghoont Pi Lene Do.!

Ek Wajha Do Jeene Ki  Zindagi  Basar Kar Lene Do.!!

बेमिसाल.!!


तेरी चोली तेरा घाघरा तेरा रेशमी दुपट्टा,
तेरे  हुस्न  को   बनाता   है  बेमिसाल.!

जिस गली से गुज़रती  है  ए हुस्न-ए-जाना,
करके दीदार हर कोई हो जाए निहाल.!!

images.jpg

Teri Choli Tera Ghaghra  Tera Reshmi Duppta,

Tere  Husn  Ko  Banaata Hai Bemisaal.!

Jis Galee Se Guzarati Hai Ey Husn – e – Jaana,

Karke Deedar Har Koyi Ho Jaaye Nihal.!! 

बेशर्म लटें.!!


बड़ी  बेशर्म  हैं  तेरे  बलों  की  ये लटें ,
सरे  आम  तेरे  गालों  को  चूमती रहती.!

हम जो देखें तुझे जी भर एक नज़र,
सारे शहर को  हमारी  शिक़ायत करती.!!

beshrm.jpg

Badi Beshrm Hain Tere Balon Ki Ye Latein,

Sare Aam Tere Gaalon Ko Choomti Rahti.!

Hum  Jo  Dekhein  Tujhe  Jee Bhar Ek Nazar,

Saare Shahar Ko Humaari Shiqayat Karti.!!

Hadh Kardi Aapne.!!


हुस्न दिया  माना  खुदा ने,
गर्मी भी दी है.!

इतनी बेबाकी अच्छी नहीं,
शर्म भी दी है.!!

bebaki.jpg

Husn Diya Mana Khuda Ne,

Garmi Bhi Di Hai.!

Itani  Bebaaki Achchi Nahin,

Sharm Bhi Di Hai.!!

 

Koyi Tujh-Sa Nahin.!!


एक नहीं दो नहीं तीन नहीं,
कई-कई कलियाँ रोज़ देखी हमनें .!

जो  बात  तुझ  में  है  सनम,
वो  बात  देखी   नहीं  कहीं  हमनें.!!

kaliyan.jpg

Ek Nahin Do Nahin Teen Nahin,

Kai-Kai Kaliyaan Roz Dekhi Humnein.!

Jo  Baat Tujh Mein  Hai  Sanam,

Wo Baat Dekhi Nahin Kahin Humnein.!!

How I CaN…


  कैसे   भूल   सकता   हूँ   भला,
  तेरा वो  बारिशमें  भीगा  बदन.!

  जब तेरा हुस्न निखर आया था,
  देख यौवन जल उठी थी अगन.!!

bhiga badan.jpg

  Kaise Bhul Sakta Hun Bhala,

  Tera Wo Barish  Mein Bhiga Badan.!

  Jab Tera Husn Nikhar Aaya Tha,

  Dekh  Yauwan  Jal  Uthi  Thi  Agan.!!

You’re Nothing…


  शम्मा हुस्न  पर  यूँ ना इतरा,
  परवाने को जला तुझे क्या मिलेगा.!
  बिन परवाने तेरी क्या बिसात,
  कभी कहीं ऐसा क़द्रदान ना मिलेगा.!!

ka bisat.jpg

  Shamma Husn Par Yun Na Itra,

  Parwaane Ko Jala Tujhe Kya Milega.!

  Bin  Parwaane  Teri  Kya Bisaat,

  Kabhi Kahin Aisa Qdrdan Na Milega.!!

 

आप की झुलेफें.!!


  आप की झुलेफें हैं की जैसे सावन की काली घटा.!
  अपने आगोश में ले हर वक़्त  भिगोने को रहती.!!

aapki jhulfein.jpg

Aap Ki Jhulfein Hain Ki Jaise Sawan Ki Kaali Ghata.!

Apne Aagosh Mein Le Har Waqt Bhigone Ko Rehati.!!

आशिक़ों के मेले.!!


    परदानशीनों से पूछो,
    पर्दे में रहने का मज़ा क्या है.!
    हुस्न चाहे कैसा भी हो,
    आशिक़ों के मेले पीछे रहते हैं.!!

परदानशीनों से पूछो.jpg

   Pardanasheenon Se Poocho,

   Parde Mein Rehne Ka Maza Kya Hai.!

   Husn Chahe Kaisa Bhi Ho,

   Aashiqon Ke Mele Piche Rehte Hain.!!

चार दिन की चाँदनी.!!


     हुस्न दिया गर खुदा ने,
     संभाल के रख.!

     चार दिन की चाँदनी है,
     यूँ  ना  इतरा.!!

हुस्न दिया गर खुदा ने,.png

Husn Diya Gar Khuda Ne,

Sambhal Ke Rakh.!

Chaar Din Ki Chandni Hai,

Yun  Na  Itraa.!!

%d bloggers like this: