Her Problem His Tension…


freindship.jpg

कैसे एतबार करूँ कैसे तुझ संग मैं प्यार करूँ.!
जाने कब देगा दे जायेगी क्यूँकर इंतज़ार करूँ.!!
हो सकता कोई मजबूरी हो या समझौता कोई.!
बेवफा भी न कहूं क्यों दिल पर अत्याचार करूँ.!!
जब चाहा सवाल किया जब चाहा जवाब दिया.!
तेरे मन-मुताबिक़ ही क्यों मैं हर व्यवहार करूँ.!!
बात किसी संग इश्क़ किसी से ब्याह किसी से.!
सज कहती तेरे लिए ही तो सोलहां-शृंगार करूँ.!!
तेरी कुछ होंगी माना पर मेरी भी मजबूरियां हैं.!
दिल एक बार लगता बार-बार कैसे प्यार करूँ.!!
वक़्त मिला तो मुडकर देखना दीवाने का हाल.!
तन्हा ज़िन्दगी कटती नहीं कैसे सफर यार करूँ.!!

Advertisements

About Dilkash Shayari- Sagar

"Everyone Thinks Changing The World,But No One Thinks Of Changing Himself" I'm Advocate(Lawyer) Writer&Poet All Copyrights Are Reserved.(Under Copyright Act) Please Do Not Copy Without My Permission.

Posted on April 22, 2017, in Ghazals Zone. Bookmark the permalink. 8 Comments.

  1. This is indeed beautiful piece.

    Liked by 1 person

  2. Thanks,

    ज्यादातर ऐसा ही होता है और पीछे रह जाती हैं यादें पागलपन और
    कभी न ख़त्म होने वाली तन्हाई!

    Liked by 1 person

  3. But life is beautiful to live in new ways..
    Nothing is permanent,no grief , happiness
    We should leave our worries and loneliness and live life to its fullest.

    Liked by 1 person

  4. Off Course But Kisne Diya Ye Adhikar “Aap Kisi Ki Bhanaon Se Khelein Aur Majboori Ka Bahana Bana Rukhsat Ho Jayein?”

    Liked by 1 person

  5. But life never ends whatever the situation is.
    We feel bad,regret and a lively person finds its way towards happiness.

    Liked by 1 person

  6. दर्द क्या है दर्द का एहसास क्या,
    तभी जाने गा बन्दे.!
    जब तू भी कभी चोट खा जाएगा,
    दर्द का दर्द पहचान जायेगा.!!

    Liked by 1 person

  7. प्रेम में लोग खुद को खो देते हैं फिर भी कुछ देने की हिम्मत रखते है—-
    स्वार्थी सब लूटकर भी लुटेरे ही बने रहते हैं।……आपकी दिलकश शायरी सारे लाजवाब हैं।

    Liked by 1 person

  8. सही फरमाया मधुसूदन जी

    प्रेम पूजा एक सुहाना दिलकश एहसास.!
    ऐसे भी बेवफा हैं करें फिर भी परिहास.!!

    आपको शेर-औ-शायरी पसंद आई,शुक्रिया

    Liked by 1 person

Comments / आपके विचार ही हमारे लिखने का पैमाना हैं.....ज़रूर दीजिये...

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: