Mashhoor…


Tum door kya huve duniyan door ho gyi,!

Dil ki har aarzoo dil se majboor ho gyi.!!

Jo chehra subaha sawere aankhon samne hota.!

Kisi aur nazar ki dil-e-tasweer ho gyi.!!

Zindagi yun nazar na chura kuch nahin tere siwa.!

Jaanti sab kuch kyun itni mageur ho gyi.!!

Badnam idhar hun to tere charche kum nahin.!

Muhabbat’Sagar’sang kar mashhoor ho gyi.!!

Advertisements

लोहड़ी-मकर संक्रांति की शुभकामनाएं…


lohdee

Bewafa…


sogni

ज़िन्दगी तुझ संग बेशक कितनी भी मुहब्बत करूँ,
किसी मोड़ बेवफाई ही करेगी.!
तू कल भी बेवफा थी आज भी है और यक़ीनन,
बेवफा ही रहेगी.!!

life 1

Zindagi tujh sang beshq kitni bhi muhabbat kyun na karun,

Kisi mod bewafai hi karegi.!

Tu kal bhi bewafa thi aaj bhi bewafa hai aur yaqeenan,

Bewafa hi rahegi.!!

 

Bagawat-e-Ishq…!!


Tujhi se ishq aur tujhi se bagaawat,

Ye kaisi hai meri muhabbat ki dastan.!

Main jitna tujh se door hona chahun,

Kareeb laati hai guzte dinon ki dastan.!!

                        fail.jpg

Dua.!!


Tang aa gya hun hayat-e-safar tanha tai karte karte.!

Ya manchaha humsafar de ya wapis bula le Khuda.!!

 

Why…


Chupke se massage chod chale jaana kaisi yaari hai yaara.!

Dil nahin behla sakte na sahi itni magruriyat kyun yaara.!!

bike

Na-Mumqin.!!


Mumqin nahin tujhe bhulna na mere bas ki baat hai.!

Tere khayalon ki tasweer nahin hun ye aur baat hai.!!

Muhabbat


Ik baar muhabbat kar ke to dekh,

Khyalat mere baare mein tere saare badl jaeinge.!

Tadpegi raat bhar karwatein badl,

Teri sanson mein log mahak mete tan ki paeinge.!!

                        IMG-20190101-WA0001.jpg

Reply Back…


Apne bewafa labon se mera naam na le.!

Koyi waada nahin kiya aur bhulaya jaun.!!

IMG-20190101-WA0004.jpg

Happy New Year


       Happy New Year 2019

 

IMG-20181230-WA0010

27th Dec.


27th Dec.My Birthday

Good Night.!!


बेशक पसंद हों या ना हों,
दुआओं में शामिल रखना.!

कल फिर रूबरू हों सकें,
रब्ब से  यही दुआ करना.!!

बेशक पसंद हों या ना हों,

Phark…


Mujh mein galti sudhar khud ko badalne ki taaqt hai.!

Magar tum khud ko kabhi galt maante nahin.!!

This slideshow requires JavaScript.

 

 

Love…


Ik pyaar tumne kiya tha ek pyaar humnein kiya.!

Phark sirf itna tumne bhula diya hum bhula na paaye.!!

Good Morning…


जाने  किस  पहर  शाम  हो जानी है,
जिन्दा हैं तो कोई न कोई परेशानी है.!

हंस-बोल कर जी ले बन्दे,
बाद  तो  फिर  कहानी है.!!

जाने किस पहर शाम हो जानी है,

मायने.!!


ज़िन्दगी में मायने इस बात के नहीं कितनों ने आपको याद रखा.!
मायने इस बात के हैं ज़िन्दगी भर आपने कितनों को भुलाया है.!!

1

सकूँ.!!


मुमकिन नहीं अपना हाल-ए-दिल बता सकूँ.!
कितना  प्यार  है  तुम  से  तुम्हें मैं बता सकूँ.!!

साजिशें  बहुत  की मगर मुझे बदल न सके.!
इतना क़ाबिल नहीं मैं के तुम को भुला सकूँ.!!

मिल  जाएंगे  तुम को  बहुत प्यार करने वाले.!
कोई रास्ता सूझता नहीं कैसे गैर घर जा सकूँ.!!

लफ़्ज़ों के तीर से हर पल मेरा दिल घायल किया.!
कोई दवा भी दे जाओ जो दिए जखम मिटा सकूँ.!!

दो पल की ज़िन्दगी में कुछ बातें सकूँ की करो.!
कुछ  ख्वाहिशें  हों  पूरी अधूरी संग न जा सकूँ.!!

सकूँ.

Mumqin nahin  apna haal-e-dil bta sakun.!
Kitna pyaar hai tum se tumhein main bta sakun.!!

Sajishein bahut ki magar mujhe badal na sake.!
Itna qabil nahin main ke tum ko bhula sakun.!!

Mil jaayeinge tumko bahut pyaar karne waale.!
Koyi rasta sujta nahin kaise kisi aur ghar ja sakun.!!

Lafzon ke teer se har pal mera dil ghayal kiya.!
Koyi dawa bhi de jao jo diye jakham mita sakun.!!

Do pal ki zindagi mein kuch baatein sakun ki karo.!
Kuch khwahishein hon poori adhuri sng na ja sakun.!!

ज़िन्दगी…


ज़िन्दगी रुक नहीं पाती खुशियों के रेल में.!
सब्ज़-बाग़ दिखा खो जाती जाती है मेले में.!!

गिला-शिक़वा खुद को बड़ा मानने की ज़िद्द.!
सब कुछ होते हुवे आखिर जाना अकेले में.!!

मनचाहा पाने की यहाँ इज़ाज़त किसे मिली.!
ज़िन्दगी गुज़र  जाती  ज़िन्दगी के झमेले में.!!

दिन गुजरे इंसान एहमियत-ए-रिश्ता जानता.!
अब बिकते हैं रिश्ते गली-चौराहों पर धेले में.!!

प्यार-वफ़ा-ईमान  की उम्मीद ना कर यारा.!
लोग  लेते  हैं यहाँ  मज़ा नफरत के शोले में.!!

ज़िन्दगी…


काहे का है झगड़ा काहे का है रोना-धोना,
जाने ज़िन्दगी की कब शाम हो जानी है.!

हंस-बोल जी ले बन्दे चार दिन की ज़िन्दगी,
सब यहीं रह जाना लम्हों की कहानी है.!!

ज़िन्दगी

लोग कहते हैं..!!


लोग कहते हैं तुझ को मुझ से मुहब्बत हो गई है.!
मैं समझता हूँ मेरी हालत तेरे जैसी हो गई है.!!
लोग कहते हैं…

जो भी देखा उस ख्वाब में तू ही तू नज़र आई.!
हर लम्हें की सूरत तेरे जैसी हो गई है.!
लोग कहते हैं…

तेरे होंठों की आह मेरे घर के कांच तोड़ गई.!
मेरी आँखों से तेरे घर बारिश हो गई है.!!
लोग कहते हैं…

मेरी खुशबू से महकती तेरी ज़िन्दगी की सांसें.!
मेरी हर धड़कन तेरी अमानत हो गई है.!!
लोग कहते हैं…

मिलना-बिछड़ना तो वक़्त की नज़ाकत है यारा.!
तेरी ज़ुस्तज़ु में रवि की शाम हो गई है.!!
लोग कहते हैं…

पहचान…


इन्सान के व्यक्तित्व की पहचान,
उसके द्वारा अपने परिवार के लिए किये गए
सहयोग / त्याग से होती है,
ज़माने भर का दर्द तो सभी उठाने का दम भरते हैं…
क्यूंकि सम्मान तभी तो मिलेगा…?
और परिवार सिवाए प्यार के…
कुछ नहीं दे सकता…कुछ खट्टा कुछ मिठ्ठा…

2.jpg

कोई किसी को नहीं बिगाड़ता…


कोई किसी को नहीं बिगाड़ता...

आपके आस-पास यक़ीनन दो अलग-अलग सोच
के व्यक्ति रहते होंगे,
जिनके विचार विपरीत होंगे…

ये आप पर निर्भर करता है आप किसको पसंद कर,
किसके स्वभाव को अपनाते हैं…

हाथों की लकीरें…


अपने हाथों की लकीरों में सजा लो मुझे,
कोई गैर नहीं हूँ दिल में बसा लो मुझे.!

इससे पहले और तसव्वुर का ख्वाब बनूँ,
अपनी आँखों का हमराह बना लो मुझे.!!

2

Apne hathon ki lakiron mein saja lo mujhe,

Koyi gair nahin hun dil mein basa lo mujhe.!

Isse pahale aur nazar ka khwab banun,

Apni aankhon ka humrah bana lo mujhe.!!

!!.सुप्रभात.!!


सुप्रभात.jpg

Happy Dussehra.!!


तम्माम अच्छाइयों पर भारी पड़ती है बस एक बुराई,.!
दुनियां का यही  चलन था  है  और यही चलन रहेगा.!!

Dussehra-2018

Tammam achchaiyon par bhari padti hai bas ek burai,.!

Duniyan ka  yahi  chaln  tha hai aur yahi chaln rahega.!!

कैसे.!!


नहीं करीब है मेरे फिर भी मेरी सांसों में तेरी गर्माहट है कैसे.!

शायद इसी का नाम है मुहब्बत तेरी तस्वीर आँखों में है कैसे.!!

eyes.jpeg

Why…


खूबसूरत पिक लगा अपनी Dp में हटा लेते हैं,
हुस्न वाले आजकल कुछ यूँ ही तड़पा लेते हैं.!

तस्वीर ही होता सहारा सकूँ दिल के पाने का,
तन्हाई में यार”सागर“देख दिल बहला लेते हैं.!!

bike

Garur…!!


यूँ आइना में न देखा करो,
गरूर खुद पर उसे नाहक ही हो जाएगा.!
पी जाम हुस्न-औ-जमाल का,
मगरूर सब को नज़रअंदाज़ कर जाएगा.!!

Garur

Yun aina mein na dekha karo

Garur khud par use nahak hi ho jaayega.!

Pee jaam husn-o-zamaal ka

Magrur sab ko nazarandaz kar jaayega.!!

Koshish…!!


बीती बातों को दोहराने से क्या फायदा ज़ख्म जितना कुरेदोगे दर्द बढ़ता जाएगा.!
गुज़रे ज़माने को भुला कर तो देखिये मज़ा जीने का और भी बढ़ता ही जाएगा.!!

pofit.jpg

Beeti baaton ko dohrane se kya fayda zakhm jitna kuredoge dard badhta jaayega.!

Guzre zamaane ko bhula kar to dekhiye maza jeene ka aur bhi badhta hi jaayega.!!

 

Maybe…


इक बार करीब आ  तो देखो खुद बखुद इरादे बदल जाएंगे.!
माना खुद से किये होंगे वादे कई मगर सारे वादे बदल जाएंगे.!!

Iraade.jpg

Ik baar   kareeb  aa to dekho  khud bakhud iraade badal jaayeinge.!

Mana khud se kiye honge waade kai magar saare wade badal jaayeinge.!!

%d bloggers like this: