बंधन है जहाँ प्यार सांसों से बेशुमार हुआ.!!


इक पल की मुहब्बत ने जन्मों का दर्द दिया.!
उन्हें इतना चाहते गए कि जीना दुश्वार हुआ.!!

मैखाने जा भी कभी खुद को पिए ना समझा.!
उनकी आँखों में क्या देखा मन खुमार हुआ.!!

बहुत रुस्वा हुए साथी की इक झलक खातिर.!
बदनाम हुए तो क्या दिल को करार तो हुआ.!!

शादी सिर्फ दो जिस्मों का मिलन नहीं जानम.!
ये बंधन है जहाँ प्यार सांसों से बेशुमार हुआ.!!

फलसफां उल्फत के बहुत सुने थे मगर यारो.!
प्यार क्या तभी जान पाए”सागर“इकरार हुआ.!!

wow

Advertisements

अब वो ज़ालिम याद भी नहीं आता.!!


ये कैसी बेबसी है या है मुहब्बत का सरूर,
के अब वो ज़ालिम याद भी नहीं आता.!

जो इतना करीब है कि दिल का अज़ीज़ है,
पर अब”सागर“सपनों में भी नहीं आता.!!

12.jpg

Ye kaisi bebasi hai ya hai muhabbat ka sarur ,
Ke ab wo zalim yaad bhi nahin aata .!
Jo itna kareeb hai ki dil ka azeez hai,
Par ab”Sagar”sapnon main bhi  nahin aata .!!

Moon on Earth…


दिल की किताब में तेरी तस्वीर सजा पूजा है तुझ को.!
कोई सबक याद नहीं होता है जब से देखा है तुझ को.!!

Dil ki kitab mein teri tasweer saja pooja hai tujh ko.!

Koyi sabak yaad nahin hota jab se dekha hai tujh ko.!!

Traitors…


बेवफा हम नहीं बेवफा तुम नहीं,
फिर क्यों हूई दूरियां.!
कुछ तो रही होगी जरूर वजह,
होती नहीं यूँ दूरियां.!!

happy

Bewfa Hum nhain bewfa Tum nhain ,
Phir Kyun huyi dooriyan .!
Kuch  To  rahi  hogi jaroor  wajha ,
Hoti nhain Yun dooriyan .!!

कहाँ गल्ती हूई मालिक से.!!


कतरा-कतरा ख़ुशी को तरसी हैं मेरी सांसें,
ना गिला कोई ना शिकायत किसी से.!
सब अपने-अपने मुक़द्दर की बात “सागर“,
खूब दिया कहाँ गल्ती हूई मालिक से.!!

Rabb.jpg

Katara -katara khushi ko tarsi hain meri sansein ,
Naa gila koyi naa shiqaayat kisi se.!
Sab apne -apne muqaddar ki baat “Sagar “,
Khub diya kahan galti huyi Maalik se.!!

तेरी ख़ुशी को दुआओं में माँगा है मैंने.!!


छुप-छुप ना पढ़ मेरे हाल-ए-दिल भरी नज़्में मेरी शायरी,
तन्हाई में तुझे याद कर लफ़्ज़ों से पिरोया है मैंने.!
जहाँ भी है जैसी भी पर है”सागर”दिल की दिल-ओ-जान,
उठे हाथ तेरी ख़ुशी को दुआओं में माँगा है मैंने.!!

lovely.jpg

Chup-chup na padh mere haal-e-dil bhari nazmein meri shayari,

Tanhai mein tujhe yaad kar lafzon se piroya maine.!

Jahan bhi hai jaisi bhi par hai”Sagar“dil ki dil-o-jaan,

Uthe haath teri khushi ko duaaon mein managa maine.!!

Dowry…


बाबुल ने बड़े जतन से पाला है,
तुम ने जिसे रिश्ते  के  वक़्त  पैसों से तौल डाला है.!

कुछ तो खौफ खाओ रब्ब का,
लड़के वालो कमाई का खूब धंधा खोज निकाला है.!!

Dowry

Babul ne bade jatan se paala hai,

Tum ne jise rishe ke waqt paison se taul daaa hai.!

Kuch to khuaf khao Rabb ka,

Ladke walo kmai ka khub dhandha khoj nikala hai.!!

खुदा भी पछताया है.!!


हज़ारों दुआएं मांग कर इक तुझे पाया है.!
कर”सागर“नाम खुदा भी बाद पछताया है.!!

yellow

Hazaron duayein maang kar ik tujhe paaya hai.!

kar”Sagar“naam Khuda bhi baad pachataya hai.!!

ज़िन्दगी कुछ जुमलों की दास्ताँ नहीं.!!


ज़िन्दगी कुछ जुमलों की दास्ताँ नहीं,
छोड़ा और हंस आगे बढ़ दिए.!

किसी की भावनाएं जगा मुंह फेरना,
भला कहाँ की इंसानियत होती.!!

The beats in the chest,

क्यों….!!


बहुत सहे सितम सनम इक तेरे प्यार की खातिर.!
अब रोया देख मेरा ज़नाज़ा किस सितम खातिर.!!

tears

Back to Home…


november1.jpg

कुछ खट्टी कुछ मीठी,
यादें ताज़ा हो गयी.!

कब मिले पुराने यार,
ज़िन्दगी ताज़ा हो गयी.!

Good Bye…


अगर आपके ना रहने से दूसरा खुश रह सकता है तो उस जगह को जरूर छोड़ दीजिये…

ssemras21

ज़िन्दगी में अगर आपके होने से किसी को दर्द पहुंचे.!
इससे बेहतर “सागर” उस जगह-जहाँ को ही छोड़ दें.!!

 

क्या करूँगा”सागर”.!!


कई कमरों का घर बना बता मैं क्या करूँगा”सागर“.!
इक कमरा ही काफी गर हर रिश्ता ज़ज़्बात समझे.!!

वाह…


जहाँ आपका बचपन बीता हो,उस शहर या जगह जब ज़िन्दगी में दोबारा जाना हो,
बचपन के दोस्त कुछ खट्टे-मीठे पल…
गुज़री यादें ताज़ा हो जाती हैं…

गुज़रा वक़्त”सागर“कभी लौट कर नहीं आता.!
वो शहर भी जहाँ बीता जीवन भूला नहीं जाता.!

मशहूर.!!


कुछ नग्में कुछ गीत कुछ ग़ज़लें,

सागर“ने लिखी तन्हाइयों में रहकर.!

बाद दुनियां दोहराएगी यक़ीनन,
रख देंगी तुझे एक दिन मशहूर कर.!!

aarzu.jpg

Kuch nagme kuch geet kuch gazale,

Sagar“ne likhi tanhai mein rehkar.!

Baad duniyan dohrayegi yaqeenan,

Rakh deingi tujhe ek di mashhoor kar.!!

 

If I Do…”Sagar”


ज़रा सोच मेरे रहते किसी गैर संग बात करे,
क्या मैं करूँ तो तुझे गवारा होगा.!

मुझपे लगाए हैं लाख पहरे और बंदिशें तूने,
तुझे कैसे मैं फिर आज़ाद करूँ.!!

zidd.jpg

Zra sauch mere rahte kisi gair sang baat kare,

kya main karun to tujhe gawara hoga.!

Mujhpe lagaye hain lakh pahare aur bandishein tune,

Tujhe kaise main phir aazad karun.!!

You Can’t…


मिटा सकती है तो मिटा ले,
अपने हाथों की लकीरों से नाम”सागर‘”का.!

दुनियां चाहे चाँद-सितारे छूले,
खुदा की लिखी  इबारतें नहीं मिटा सकती.!!

lakiren.jpg

Mita sakti hai to mita le,

Apne hatho ki lakiron se naam”Sagar“ka.!

 

Duniyan chahe Chand-Sitare choo le,

Khuda ki likhi Ibartein nahin mita sakti.!!

बता”सागर”को कैसे बेवफा कहती.!!


Good Morning Package,

5 Times Fk

Jahan teri muhabbat ki had hai,
Usse aage meri shuru hoti.!

Khud kar faisla bata “Sagar” ko,
Har waqt kaise bewfa kehti.!!

had.jpg

जहाँ तेरी मुहब्बत की हद है,
उसे आगे मेरी शुरू होती.!

खुद कर फैसला बता”सागर“को,
हर वक़्त कैसे बेवफा कहती.!!

इक पागल-सी लड़की.!!


इक पागल-सी लड़की,
कभी लड़ती कभी बात करती.!
बड़ी मासूम है शायद,
फूलों से बेहतर चंदा-सी लगती.!!

हर रात जागती वो,
अपने खवाबों की ताबीर खातिर.!
इरादे बुलंद उसके,
कभी वार कभी तकरार करती.!!

उसके भी कुछ सपनें,
पंछी माफिक परवाज़ भरने के.!
खुले आस्मां की चाहत,
ज़िन्दगी को बहुत प्यार करती.!!

 

o

 

रहे ना रहे चिराग उल्फत के जलाये रखना.!


रहे ना रहे चिराग उल्फत के….png

रहे ना रहे चिराग उल्फत के यूँही जलाये रखना.!
बमुश्किल मिलती वफ़ा नग्मों में सजाये रखना.!!
          रहे ना रहे चिराग उल्फत के…                                      

 कभी शेर बन कभी रुबाई तो कभी ग़ज़लों में.!
साथ गुज़ारे लम्हों को लफ़्ज़ों से बसाये रखना.!!
रहे ना रहे चिराग उल्फत के…

कब मुहब्बत को आसानी से क़बूल करे दुनियां.!
बेवफा ना होना यूँही जहाँ को झुकाये हुए रखना.!!
रहे ना रहे चिराग उल्फत के…

मुहब्बत बाज़ार में नहीं निभा कर कमाई जाती.!
पाक वफ़ा निभा भटकों को राह दिखाए रखना.!!
रहे ना रहे चिराग उल्फत के…

ज़िन्दगी है यहाँ फ़लसफां हो मिट जाने के लिए.!
वक़्त कैसा भी रहे”सागर“सब को हंसाये रखना.!!
रहे ना रहे चिराग उल्फत के…

9b382ce186c12642ee356fe6df1015101

Lack of Knowledge…


बेपन्हा हुस्न पर ना जाए,
आंतरिक गुणों से है पहचान.!

यहाँ रूप के दीवाने सब,
इंसानों की कम ही पहचान.!!

आ “सागर” मज़ार कुछ फूल चढ़ा देना.!!


कैसे समझाएं अब वक़्त नहीं ज्यादा,
गिले शिकवों में ही ज़िन्दगी यूँ ना बिता देना.!

वक़्त रहते हाल-ए-दिल न सुना सके,
बाद आ “सागर” मज़ार कुछ फूल चढ़ा देना.!!

 

mazar.jpg

 

Bye Heart…!!


कभी चाह कर भी तुम्हारी तरह नहीं बन सकते.!

मुहब्बत तुझ से बेवफाई”सागर“कर नहीं सकते.!!

13.jpg

मैं भी जीना चाहता हूँ “सागर” इस जहाँ में,
कोई फरिश्ता नहीं के दिल के अरमान छुपा लूँ.!

कल का क्या भरोसा दगा हो इससे पहले,
यहाँ किसी शौख हसीना से अपना दिल लगा लूँ.!!

I will definitely do this…”Sagar”


If I find someone happy by saying “You’re so beautiful“, then I will definitely do this,
Even if this is a lie...#Sagar

why not.jpg

अगर मेरे दवारा”आप बहुत सुन्दर हैं” बोलने से किसी को ख़ुशी मिलती है तो मैं ऐसा जरूर करूँगा,
चाहे ये झूठ ही क्यों न हो#सागर

जवाब.!


अभी कैसे दूँ जवाब ना करो तंग
अभी हमारे इम्तहान चल रहे हैं.!

बाली उम्र माना ना बहकेंगे हम,
बेश्क दिल में चिराग जल रहे हैं.!!

5xobCUU

अब सोचता मौत आ जाए.!!


 

माना “सागर” अपना कोई भी दुश्मन नहीं है इस जहाँ में.!

अब सोचता मौत आ जाए अच्छा कोई है भी नहीं अपना.!!

लगता पीले सूट में खुद को खुदा समझ बैठे हो.!!


 

कई दिनों से एक तस्वीर प्रोफइल पिक लगाए बैठे हो.!
जान-ए-जहाँ इतना कुफर की बात पर तौले बैठे हो.!!

बदल दो बदल दो कह-कह लगता सर चढ़ा लिया है.!
लगता मैले पीले सूट में खुद को खुदा समझ बैठे हो.!!

“सागर”मुस्कुराने के सिवा जहाँ में रखा क्या.!!


हसीनों से भी हसीं जब सामने हो हुस्न कोई.!
सागर“मुस्कुराने के सिवा जहाँ में रखा क्या.!!

कौन कम्बख्त जो नज़र हटाए जां जाए चाहे.!
उन की बातों-सा मज़ा दुनियां में और कहाँ.!!

आखिर सलाम


बहुत हुई गिले-शिकवों की बातें,
आखिर  सलाम  है अब.!

तेरा शहर तो पहले ही छोड़ा है,
तुझे भुलाने की बात अब.!!

Effect after Marriage…


तेरा ज़िन्दगी में आना,
अपनी बाँहों में ले सौ जाना,
याद कैसे न रखूं.!

effect.jpg

कुछ दिनों में ही तेरे,
रूप-यौवन का ऐसा असर,
कैसे अब दूर रहूं.!!

सरे बाजार मेरे प्यार का सौदा किया.!!


heart

मुहब्बत का देवता समझ मैंने प्यार तुझ संग किया,
तूने सरे बाजार जा मेरे प्यार का सौदा किया.!

हो सकता है कुछ कमी मुझ में भी रही होंगी जरूर,
मुझे ना बता सारी दुनियां में क्यों रुस्वा किया.!!

Curiosity…


बहुत हुए हैं रुस्वा इक तेरे प्यार की खातिर.!
क्या-क्या ना सहे सितम तेरे इक़रार खातिर.!!

Straight Question....jpg

चेहरा देख क्या करोगे”सागर”.!!


et.jpg

हुस्न की नज़ाकत ही बहुत है,
क़ातिल का एहसास करने के लिए.!

चेहरा देख क्या करोगे”सागर“,
इतना काफी अंदाज़ लगाने के लिए.!!

मिलन.!!


कितना प्यारा है अपना मिलन,
सात जन्मों का है ये मिलन.!

उम्मीद ज़ज़्बातों का है मिलन,
दो जिस्म इक जां का मिलन.!!

मिलन.jpg

Kitna pyaara hai apna milan,

Saat janomo ka ye milan.!

Umeed zazbato ka hai milan,

Do jism ik jaan ka milan.!!

 

Welcome November 2017…”Sagar”


Oh.! God Please fulfill all Dreams of
My Nearest‘s and Dearest‘s.

november.jpg

जाने क्या बात है नवम्बर,
तुझ संग बेवफाई  करने को जी चाहता है.!

शायद थक गया हूँ बहुत,
बेवफओं से अब दूर होने को जी चाहता है.!!

%d bloggers like this: